3.6 C
New York
Monday, January 23, 2023

Buy now

spot_img

Riteish Deshmukh Reaction | शिवसेना के पार्टी सिंबल को फ्रीज करने संदर्भ में रितेश देशमुख ने कहा- ‘आने वाले समय में जो होने वाला है…’


शिवसेना के पार्टी सिंबल को फ्रीज करने संदर्भ में रितेश देशमुख ने कहा- ‘आने वाले समय में जो होने वाला है…’

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में तीन महीनों से काफी बदलाव देखने मिल रहे है। राज्य की राजनीति बदलने वाली घटनाओं के बीच केंद्रीय चुनाव आयोग ने एक नया अध्याय जोड़ दिया है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के ठाकरे के नेतृत्व वाले समूह के बीच चल रहे विवाद के मद्देनजर केंद्रीय चुनाव आयोग (Central Election Commission) ने बड़ा फैसला लेकर दोनों समूह हो दिलासा देने की कोशिश की है। विवाद के मद्देनजर अंधेरी उपचुनाव से पहले केंद्रीय चुनाव आयोग ने ‘शिवसेना’ (Shiv Sena) और चुनाव चिन्ह ‘धनुष्यबन’ पर रोक लगा दी है। ऐसे में अब  उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को टार्च और मशाल वाला चिन्ह दे दिया गया है। इसके साथ ही उनकी पार्टी का नाम शिवसेना उद्धव बालासाहेब ठाकरे रखा गया है। एकनाथ शिंदे से भी केंद्रीय चुनाव आयोग ने तीन विकल्प की मांग की है। उसी के आधार पर उनके समूह को चुनावी चिन्ह दिया जाएगा। इस पूरे उथल-पुथल के बीच पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख के बेटे अभिनेता रितेश देशमुख ने प्रतिक्रिया दी है। 

रितेश ने सवाल का जवाब देते हुए कहा कि ‘मेरे ही परिवार के दो सदस्य पहले से ही राजनीति में हैं,” और उनकी बगल में बैठी उनकी पत्नी भी हंसती हुई दिखाई दीं। मैं राजनीति और सामाजिक कारणों की खूबियों को आंकने वाला नहीं हूं। मैं बहुत छोटा व्यक्ति हूं। हां, मैं राजनीति देखता हूं। बहुत करीब से देखना और पढ़ना हूं। आपकी तरह, मैं भी उसकी ओर आकर्षित हूं। ‘

यह भी पढ़ें

अभिनेता ने आगे कहा कि ‘यह सब अब एक अलग दिशा में जा रहा है। लेकिन मुझे यह देखना अच्छा लगेगा कि आगे क्या होता है। क्योंकि भविष्य में क्या होगा इसके आधार पर हम अपने राजनीतिक भविष्य को जानेंगे। हम जानेंगे कि आने वाले आयोजनों में राजनीति का भविष्य क्या होने वाला है।’





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,677FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles