2 C
New York
Friday, January 27, 2023

Buy now

spot_img

Why Congress Leader Mallikarjun Kharge Contesting President Election Know The Reason


Congress President Election: कुछ ही दिनों में कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिलने वाला है. 17 अक्टूबर 2022 को पार्टी के अगले अध्यक्ष के लिए वोटिंग होनी है और 19 अक्टूबर को नए अध्यक्ष की घोषणा कर दी जाएगी. मल्लिकार्जुन खड़गे या फिर शशि थरूर, तस्वीर साफ हो जाएगी. हालांकि, चुनाव से पहले इन दोनों नेताओं के ऐसे बयान सामने आए जिनको लेकर सवाल हैं. सवाल ऐसा जो कांग्रेस की निष्पक्षता पर ही सवाल खड़े कर रहा है.

एक ओर कांग्रेस जहां कह रही है कि अध्यक्ष पद का चुनाव निष्पक्ष तरीके से हो रहा है और गांधी परिवार की इसमें कोई भूमिका नहीं है. वहीं अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ रहे मल्लिकार्जुन खड़गे के बयान से ऐसा नहीं लग रहा है. मल्लिकार्जुन ने कहा है कि नामांकन पत्र दाखिल करने से सिर्फ 24 घंटे पहले कहा गया कि वो इस चुनाव को लड़ें. इससे साफ हो जाता है कि अध्यक्ष पद का चुनाव चाहे जो भी जीते लेकिन गांधी परिवार का इन्वॉल्वमेंट रहेगा. सोनिया गांधी तटस्थ भूमिका में रहेंगी.

‘सोनिया गांधी ने दी मुझे जिम्मेदारी’

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उन्हें पार्टी का नेतृत्व करने के लिए कहा था. वह चुनाव लड़ने के लिए इसलिए सहमत हुए क्योंकि गांधी परिवार का कोई भी सदस्य पार्टी अध्यक्ष का पद संभालने को तैयार नहीं था.

खड़गे ने कहा कि सोनिया गांधी ने उन्हें अपने घर बुलाया था और उनसे कांग्रेस का नेतृत्व करने के लिए कहा था. मैंने उनसे कहा कि मैं तीन नाम सुझा सकता हूं लेकिन उन्होंने कहा कि वह नाम नहीं मांग रही हैं और मुझे पार्टी का नेतृत्व करने के लिए कहा. खड़गे ने कहा कि वह सामूहिक नेतृत्व में विश्वास करते हैं और पार्टी को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए सभी सदस्यों के साथ काम करेंगे.

उन्होंने ये भी कहा कि बहुत से लोग कहते हैं कि मैं रिमोट कंट्रोल हूं और पीछे से काम करूंगा. वे कहते हैं कि मैं वही काम करूंगा, जो सोनिया गांधी चाहेंगी. कांग्रेस पार्टी में रिमोट कंट्रोल जैसी कोई चीज नहीं है, हम लोग एक साथ निर्णय लेते हैं. ये आप लोगों की सोच है.

कर्नाटक कांग्रेस ने खड़गे को भारत जोड़ो यात्रा से रखा दूर

अब एक सवाल फिर उठता है कि जिस व्यक्ति को सोनिया गांधी ने खुद अध्यक्ष पद का उम्मीदवार बनाया, उसे कर्नाटक में भारत जोड़ो यात्रा से दूर रखा गया. ऐसा क्यों? टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक 6 अक्टूबर 2022 को जब सोनिया गांधी मंड्या में भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुईं थीं तब मल्लिकार्जुन खड़गे भी उनके साथ गए थे लेकिन राहुल कहने पर उन्हें एक मैसेज दिया गया और वो इस यात्रा से दूर रहे. इसके बाद कर्नाटक में वो यात्रा के दौरान कहीं नहीं दिखे. जबकि कर्नाटक मल्लिकार्जुन खड़गे का गृह राज्य है. इसके अलावा ये भी कहा जा रहा है कि जब ये यात्रा महाराष्ट्र में पहुंचेगी तो वहां पर स्वागत के लिए एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और उनकी बेटी सुप्रिया सुले होंगी. यहां भी मल्लिकार्जुन खड़गे को दूर ही रखा जाएगा.

तो वहीं कांग्रेस का कहना है कि वो इस चुनाव को लेकर निष्पक्षता पर विशेष ध्यान दे रही है. खड़गे कर्नाटक में भारत जोड़ो यात्रा से इसलिए दूर हैं क्योंकि वो कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ रहे हैं और इस चुनाव में निष्पक्षता पर पूरा जोर है.

राहुल गांधी ने क्या कहा?

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते शनिवार को दोनों उम्मीदवारों मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर की तारीफ करते हुए कहा था कि इन नेताओं का अपना कद है और वे अच्छी समझ वाले व्यक्ति हैं और इन्हें रिमोट कंट्रोल से नहीं चलाया जा सकता. उन्होंने यह भी कहा था कि दोनों नेताओं के बारे में रिमोट कंट्रोल की धारणा उनके प्रति अपमानजनक बात है.कांग्रेस सूत्रों का यह भी कहना है कि 19 अक्टूबर को जो भी कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव जाएगा, वह 20 अक्टूबर या इसके बाद ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का हिस्सा बनेगा.

‘खड़गे कांग्रेस के आधिकारिक उम्मीदवार नहीं’

ऐसी खबरें आईं कि कांग्रेस ने शशि थरूर को सिर्फ विपक्ष के खिलाफ एक छवि के रूप में पेश किया है, जबकि मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस के आधिकारिक उम्मीदवार हैं. इन खबरों पर अब खड़गे ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ऐसी रिपोर्ट्स बिल्कुल झूठी हैं. मैं 55 साल से पार्टी में हूं, प्रतिनिधि मुझसे मिलने आ रहे हैं. मेरा काम उनसे मिलना है और वोट मांगना है. यह चुनाव बिल्कुल निष्पक्ष तरीके से हो रहा है.

उन्होंने आगे कहा कि यह एक आंतरिक चुनाव है. यह घर में दो भाइयों की तरह है, जो लड़ नहीं रहे हैं, बल्कि अपनी बात रख रहे हैं और एक-दूसरे को मनाने की कोशिश कर रहे हैं. खड़गे ने कहा कि चुनाव अभियान इस बारे में नहीं है कि कोई विशेष उम्मीदवार पार्टी का अध्यक्ष बनने पर क्या करेगा, बल्कि यह है कि वे एक साथ क्या कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें:

Congress President Election: खड़गे बोले- मैं पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार नहीं, फर्जी हैं रिपोर्ट्स, निष्पक्ष हो रहा चुनाव

Congress President Election: गृह राज्य कर्नाटक में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से दूर रहे मल्लिकार्जुन खड़गे, ये थी वजह



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,683FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles