3.8 C
New York
Thursday, February 9, 2023

Buy now

spot_img

Shiv Sena Symbol Eknath Shinde And Uddhav Thackeray Group Reaction After ECI Allotted New Names And Symbols | Shiv Sena Symbol: पार्टी का नाम मिलने पर सीएम शिंदे बोले


Shiv Sena Symbol News: भारत के चुनाव आयोग (ECI) ने सोमवार (10 अक्टूबर) को शिवसेना के दोनों गुटों को नए नाम जारी कर दिए हैं. आयोग ने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) गुट को आगामी विधानसभा चुनावों के लिए ‘मशाल’ चुनाव चिह्न आवंटित किया है. चुनाव आयोग ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के नेतृत्व वाले गुट को मंगलवार (11 अक्टूबर) तक चुनाव चिह्न के लिए फिर से तीन नए विकल्प देने को कहा है. 

चुनाव आयोग ने उद्धव ठाकरे के गुट को ‘शिवसेना- उद्धव बालासाहेब ठाकरे’ (Uddhav Balasaheb Thackeray) नाम दिया है. वहीं सीएम एकनाथ शिंदे के गुट को ‘बालासाहेबंची शिवसेना’ (Balasahebanchi ShivSena) नाम आवंटित किया गया है. चुनाव आयोग के फैसले के बाद दोनों दलों की ओर से रिएक्शन भी सामने आए हैं. महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे ने ट्वीट किया कि, “आखिरकार बालासाहेब ठाकरे के मजबूत हिंदुत्ववादी विचारों की जीत हुई. हम बालासाहेब के विचारों के उत्तराधिकारी हैं.” 

ठाकरे गुट ने चुनाव चिह्न किया जारी

निर्वाचन आयोग द्वारा ‘शिवसेना- उद्धव बालासाहेब ठाकरे’ नाम आवंटित किए जाने के बाद उद्धव ठाकरे के बेटे और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि, “नया प्रतीक, नया नाम ‘शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे)’- हमें उद्धव बालासाहेब ठाकरे पर बेहद गर्व है. उन्होंने महाराष्ट्र में हजारों लोगों की जान बचाकर मुख्यमंत्री के रूप में काम किया है. हम एक सच्ची ईमानदार सरकार रहे हैं, लोगों के लिए काम कर रहे हैं.” उद्धव ठाकरे गुट ने नए चुनाव चिह्न और नई पार्टी के नाम के साथ एक पोस्टर भी जारी किया है.

क्या कहा आदित्य ठाकरे ने?

आदित्य ठाकरे ने आगे कहा कि, “हर कोई जानता है कि उद्धव ठाकरे ने कितना काम किया है. नए नाम में हिंदूहृदय सम्राट बालासाहेब ठाकरे का भी नाम है. सबसे महत्वपूर्ण बात, ‘मशाल’ एक ऐसी चीज है जिसे हम हर घर में गर्व के साथ ले जाएंगे.” 

तीर-कमान का चुनाव चिह्न हुआ फ्रीज

उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) गुट के नेता भास्कर जाधव ने कहा कि, “हम बहुत खुश हैं, इसे बड़ी जीत मानते हैं.” बता दें कि, शिवसेना (Shiv Sena) में चले रहे विवाद के बीच बीते शनिवार (8 अक्टूबर) को चुनाव आयोग (ECI) ने पार्टी का तीर-कमान का चुनाव चिह्न फ्रीज कर दिया था. इसके बाद आयोग ने दोनों गुटों से अपने-अपने दल के लिए नए नाम और चुनाव चिह्न के लिए विकल्प देने को कहा था.

ये भी पढ़ें- 

Shiv Sena Symbol: चुनाव आयोग ने उद्धव गुट को पार्टी नाम के साथ दिया ‘मशाल’ चिह्न, शिंदे खेमे से सिंबल के लिए मांगे 3 नए विकल्प

Bharat Jodo Yatra: ‘कर्नाटक सरकार सबसे भ्रष्ट, यात्रा नफरत रोकने के लिए है’, बोले राहुल गांधी





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,706FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles