6.8 C
New York
Thursday, January 26, 2023

Buy now

spot_img

Ghaziabad Parking Case Varun Family Demand Death Penalty For Accused ANN


Ghaziabad Parking Case: राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद के लोनी क्षेत्र में एक युवक की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. ये वारदात सरेराह अंजाम दी गई. सबसे बड़ी बात ये है कि आरोपी इस वारदात को अंजाम देने के बाद फरार होने में सफल रहा.

पुलिस ने  मामले को लेकर केस दर्ज कर लिया है. साथ ही आरोपियों की तलाश कर रही है. मृतक का नाम वरुण(35) था जो कि अपने परिजनों के साथ लोनी के जावली गांव में रहता था. वरुण के परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं. पिता दिल्ली पुलिस से रिटायर्ड हैं.

मामला क्या है? 

बेरहमी से पीट पीट कर हत्या की वारदात मंगलवार(25 अक्टूबर) रात की बताई जा रही है. गाजियाबाद के लोनी क्षेत्र में टीला मोड़ थाना अंतर्गत लोनी टीला रोड पर वारदात को अंजाम दिया गया. वरुण कार में अपने दोस्तों के साथ एक ढाबे पर खाना खाने आया था. बताया जा रहा है कि एक और कार वहां खड़ी हुई थी. दोनों कारें कुछ इस तरीके से एक दूसरे के अगल-बगल खड़ी हुई कि दूसरी कार का दरवाजा नहीं खुल पाया और इसी बात पर दोनों कार में सवार युवकों का झगड़ा हो गया. कहासुनी से शुरू हुई बात हाथापाई तक पहुंच गई और आरोपियों ने वरुण को ईंट से पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया. 

ताज़ा वीडियो

घटनास्थल पर कांच भी बिखरा हुआ  जो कि वरुण की कार का बताया जा रहा है. इसके अलावा चाभी भी टूटी हुई पड़ी हुई है. एक वीडियो भी वायरल हुआ है जो कि इस घटना से जुड़ा हुआ बताया गया है. वीडियो में भी ये देखा जा सकता है कि वरुण को बहुत ही बेरहमी से मारा जा रहा है. वो जमीन पर पड़ा हुआ है. उसके चेहरे या फिर सिर पर ईंट से वार किया जा रहा है.

कोई नहीं आया बचाने
गाजियाबाद के लोनी क्षेत्र में बेरहमी से पीट-पीटकर की गई हत्या के मामले ने यूपी की कानून व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए हैं. इस घटना से जुड़ा एक वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें ये दिख रहा है कि किस तरह से ईंट से वार करके हत्या की जा रही है. सबसे बड़ा सवाल ये है कि सरेराह हुई इस हत्या को देखने वाले तो लोग थे, लेकिन बीच-बचाव कराने वाला कोई नहीं.

इस पूरी वारदात को वीडियो में कैद जरूर किया गया, लेकिन वरुण की मदद के लिए कोई भी आगे नहीं आया. अगर कोई मदद करने का प्रयास करता तो शायद वरुण जीवित होता. बताया ये भी जा रहा है कि जिस जगह पर हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया वहां पर पुलिस की मौजूदगी भी रहती है.

समय-समय पर पुलिस की पीसीआर वैन गश्त भी करने के लिए आती है, लेकिन मंगलवार (25 अक्टूबर) रात जिस समय ये वारदात हुई उस समय पुलिस की गाड़ी भी गश्त के दौरान यहां नहीं आई और यही वजह रही कि वरुण को बेरहमी से पीट-पीटकर मार दिया गया. वरुण के परिजन आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर फांसी की सजा दिलाने की मांग कर रहे हैं.

परिवार ने क्या कहा?
वरुण के के चचेरे भाई अनिरुद्ध का कहना है कि मंगलवार (25 अक्टूबर) रात लगभग 9:15 बजे उनके पास वरुण के दोस्त दीपक का फोन आया. दीपक बस इतना ही कह रहा था कि भाई जल्दी से आ जाओ यहां पर कुछ लड़के मिलकर वरुण को बुरी तरीके से मार रहे हैं. मैं, वरुण के छोटे भाई और गांव के एक और लड़के के साथ तुरंत मौके पर पहुंचा. वो जमीन पर गिरा हुआ था. वहां पर पुलिस की तीन  चार गाड़ी भी मौजूद थी, लेकिन कोई भी उसे अस्पताल लेकर नहीं गया.

जिस दीपक ने वरुण को बचाने के लिए फोन किया था, वह गांव का ही रहने वाला है. उसके साथ एक और युवक था उसके बारे में कोई ज्यादा जानकारी नहीं है. हम वरुण को तुरंत ही जीटीबी अस्पताल लेकर गए. वहां पर डॉक्टरों ने बताया कि वरुण की मौत हो चुकी है. 

वरुण को बड़ी बेरहमी से पीट-पीटकर मारा गया है. वरुण मंगलवार(25 अक्टूबर) शाम को पत्नी और बच्चों को मोहन नगर अपने ससुराल छोड़ने गया था. दीपक उसे कब और कहां मिला ये नहीं पता.
उसके पिता पिता दिल्ली पुलिस से रिटायर्ड है. उनका कहना है कि वरुण को जिन भी लोगों ने मारा है, उन्हें पुलिस जल्द से जल्द गिरफ्तार करे और सख्त सजा दी जाए. क्योंकि ये हत्या क्रूरता पूर्वक की गई है. इसमें जो सख्त सजा बनती है, वहीं सजा हम आरोपियों को दिलाना चाहते हैं.

वरुण की गाड़ी के शीशे तोड़े गए. उसको पहले गाड़ी से बाहर उतारा गया. उसके सिर पर ईंट मारी गई. वह जब जमीन पर गिर गया तब भी उसके सिर पर कई बार ईट से वार किया गया. इसके बाद एक बड़े पत्थर से उसके सिर पर मारा गया है और फिर हमलावरों ने उसे हिला कर देखा कि वह जीवित तो नहीं है. जब वह हिला डुला नहीं तब आरोपी मौके से फरार हुए हैं.

वरुण के पिता ने बताया कि  वो उनके बेटे के खिलाफ पहले कभी कोई मामला नहीं है. पुलिस को सीसीटीवी फुटेज भी मिले हैं, जिसमें दिख रहा है कि पहले वरुण को कार से नीचे उतारा गया है और बातचीत के दौरान ही उसके सिर पर ईंट मारी गई है और फिर उसे बुरी तरीके से पीट-पीटकर मारा गया है. वरुण के साथ जो दो लड़के थे, हमने उन पर भी शक जताया है और वे अभी पुलिस की हिरासत में है. इसके अलावा ये भी बताया गया है कि पुलिस ने उस व्यक्ति को चिन्हित कर लिया है, जो वीडियो में ईट मारता हुआ दिख रहा है.

पुलिस ने क्या कहा? 
गाजियाबाद जिले के एसपी सिटी 2 ज्ञानेंद्र सिंह का कहना है कि इस मामले में एफआईआर दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है. पुलिस की सात से आठ टीमों का गठन किया गया है जो कि आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है. आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है. हमने ना केवल मौका ए वारदात पर लगे सीसीटीवी बल्कि उस पूरे रूट के सीसीटीवी कैमरों को खंगाला है, जिससे हमें कई अहम सुराग भी हाथ लगे हैं. 

एसपी सिटी 2 ज्ञानेंद्र सिंह  ने बताया कि वीडियो में जो आरोपी ईंट से वार करता हुआ दिखाई दे रहा है, उसकी भी पहचान कर ली गई है. हत्या की असल वजह क्या है पता नहीं चल पाई है. पीड़ित परिवार ने 2 लोगों को नामजद कराया था, जिन्हें हिरासत में लिया गया है. दोनों युवक मृतक वरुण के साथ थे. हम लोग हमलावरों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने में जुटे ताकि हत्या की सही वजह का पता चल पाए. शुरुआती जांच में कार खड़ी करने को लेकर विवाद की बात सामने आ रही है, लेकिन अभी कोई सही बात नहीं बता पा रहा है. हिरासत में लिए गए दोनों युवक भी सही से कुछ बता नहीं पा रहे हैं. 

यह भी पढ़ें-

Ghaziabad Rape Case: गाजियाबाद गैंगरेप मामले में स्वाति मालीवाल ने सीएम योगी को लिखी चिट्ठी, उच्च स्तरीय जांच की मांग



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,678FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles