1.8 C
New York
Tuesday, February 7, 2023

Buy now

spot_img

Congress Sonia Gandhi Wishes UK New PM Rishi Sunak Says A Matter Of Pride For Us | UK PM Rishi Sunak: सोनिया गांधी ने ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री ऋषि सुनक को चिट्ठी लिखकर दी बधाई, कहा


Sonia Gandhi Congratulates New UK PM Rishi Sunak: कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने ऋषि सुनक (Rishi Sunak) को ब्रिटेन (Britain) का नया प्रधानमंत्री बनने पर बुधवार (26 अक्टूबर) को बधाई दी. साथ ही सोनिया ने सुनक के कार्यकाल मे दौरान भारत-ब्रिटेन के संबंध (India-UK Relations) और भी मजबूत और गहरे होने की उम्मीद जताई. सोनिया गांधी ने भारतीय मूल के ऋषि सुनक को लिखी एक चिट्ठी में कहा कि वह उनके ब्रिटेन के प्रधानमंत्री का पदभार संभालने पर काफी खुश हैं. यह निश्चित तौर पर भारत में हम सभी के लिए एक गर्व की बात है. 

सोनिया गांधी ने ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री ऋषि सुनक को उनकी उपलब्धि पर बधाई देते हुए कहा कि भारत और ब्रिटेन के संबंध हमेशा से कुछ खास रहे हैं और उन्हें विश्वास है कि उनके कार्यकाल में दोनों देश के रिश्तों में और भी मजबूती आएगी. 

सबसे युवा प्रधानमंत्री बन रचा इतिहास

भारतीय मूल के 42 वर्षीय ऋषि सुनक ने मंगलवार (25 अक्टूबर) को ब्रिटिश प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभाल लिया. पूरी दुनिया में रहने वाले भारतीय इस पर गर्व महसूस कर रहे हैं. ऋषि सुनक की इस उपलब्धि पर उन्हें दुनिया के कोने-कोने से बधाई संदेश देने वालों की भीड़ सी उमड़ पड़ी है. ठीक दिवाली वाले दिन पेनी मॉर्डंट के प्रधानमंत्री की दौड़ से हटने की घोषणा के बाद सुनक को कंजरवेटिव पार्टी का निर्विरोध नेता चुन लिया गया था. सुनक ब्रिटेन के 210 सालों के इतिहास में प्रधानमंत्री बनने वाले सबसे युवा नेता होंगे. 

ताज़ा वीडियो

सुनक बने पार्टी की पहली पसंद

ब्रिटेन की राजनीति में अचानक आई सियासी लहर के बीच ऋषि सुनक को प्रधानमंत्री पद आसीन होने का मौका मिला है. पिछले लगभग 50 दिनों से ब्रिटेन की सियासत में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा था. पहले भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. कंजरवेटिव पार्टी के सांसदों ने ऋषि सुनक और लिज ट्रस के बीच हुई वोटिंग में ट्रस को प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बिठाया. ऋषि सुनक पार्टी का चुनाव हार गए थे.

हालांकि, लिज ट्रस ज्यादा दिनों तक प्रधानमंत्री की कुर्सी पर नहीं रह सकी. देश की बिगड़ती आर्थिक स्थिति और पार्टी के भीतर ही उनके खिलाफ उठ रही आवाजों ने उन्हें अपने पद से इस्तीफा देने पर मजबूर कर दिया. आखिरकार 45 दिनों में ही लिज को प्रधानमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ी. इसके बाद ऋषि सुनक को एक और मौका मिला और इस बार वह ब्रिटेन के प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठने पर कामयाब रहे. 

इसे भी पढ़ेंः- Mallikarjun Kharge: भावुक मल्लिकार्जुन खरगे बोले- मजदूर का बेटा कांग्रेस अध्‍यक्ष बन गया, तोड़ूंगा नफरत का जाल



Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,702FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles