-4.3 C
New York
Sunday, February 5, 2023

Buy now

spot_img

फर्जीवाड़ा कर नौकरी करते पाए जाने पर दो शिक्षक बर्खास्त

देवरिया टाइम्स

परिषदीय विद्यालयों में फर्जी कागजातों के सहारे नौकरी कर रहे दो शिक्षकों को शनिवार को बीएसए संतोष कुमार राय ने बर्खास्त कर दिया। दोनों शिक्षकों के खिलाफ विधिक कार्यवाही करने का निर्देश संबंधित खंड शिक्षा अधिकारियों को दिया। शिक्षकों की शिकायत अलग-अलग लोगों ने बीएसए से की थी।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय बगहां, विकास क्षेत्र-भागलपुर में कार्यरत सहायक अध्यापक हरेंद्र यादव अपना पता लार थाना के रेवली निवासी बताकर नौकरी कर रहा था। इसकी शिकायत किसी ने बीएसए से करते हुए सहायक अध्यापक का वास्तविक नाम बलिया जिले के पकड़ी थाना के बनकटा गांव निवासी पतिराज का पुत्र दिनेश बताया। इसकी जांच की मांग भी की। इस पर बीएसए ने एसपी बलिया को ब्यौरा भेजते हुए सत्यापन का अनुरोध किया। सत्यापन में शिकायतकर्ता की बात पुष्ट हो गयी। साथ ही यह भी पता चला कि दिनेश बलिया में विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ भी ले रहा है। इस पर बीएसए ने सहायक अध्यापक से कार्यालय में उपस्थित होकर स्पष्टीकरण देने का निर्देश दिया, पर सहायक अध्यापक ने कार्यालय में उपस्थिति नहीं दर्ज कराई। अंतिम नोटिस के जवाब में सहायक अध्यापक ने जांच दोबारा करने का अनुरोध किया, जिसे बीएसए संतोष कुमार राय ने नहीं माना और अध्यापक को बर्खास्त कर दिया।

पथरदेवा विकास क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय पिपरा कनक में सहायक अध्यापक के पद पर कार्यरत मारकंडेय यादव के फर्जी प्रमाण-पत्रों के आधार पर नौकरी करने की शिकायत किसी ने बीएसए से की थी। इसकी जांच में मारकंडेय यादव का स्नातक का प्रमाण पत्र फर्जी पाया गया। विश्वविद्यालय से मिली जांच रिपोर्ट में शिक्षक किसी गनेश कुशवाहा के अनुक्रमांक पर फर्जी प्रमाण पत्र बनवा लिया था। इसकी जानकारी होते ही बीएसए ने सहायक अध्यापक को बीएसए ने नोटिस देकर स्पष्टीकरण तलब किया। इसके जवाब में सहायक अध्यापक मारकंडेय यादव ने बीएसए से अध्ययन वाले महाविद्यालय और विश्वविद्यालय से पुन: स्नातक अंक पत्र/प्रमाण-पत्र का सत्यापर कराने का अनुरोध किया, जिसे बीएसए संतोष कुमार राय ने स्वीकार नहीं किया। मारकंडेय यादव को फर्जी व कूटरचित स्नातक अंक-पत्र/प्रमाण-पत्र के आधार पर नौकरी करने के आधार बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष कुमार राय ने सहायक अध्यापक मारकंडेय यादव को बर्खास्त कर दिया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,698FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles