8 C
New York
Tuesday, January 31, 2023

Buy now

spot_img

देवरिया: युवक की मौत पर स्वजनों का हंगामा, सील हुआ अस्पताल

देवरिया टाइम्स

शहर के पुरवा चौराहे पर स्थित एक नर्सिंग होम में भर्ती युवक की इलाज के दौरान गुरुवार को मौत हो गई। स्वजनों ने चिकित्सको व कर्मियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर बवाल काटा। इस दौरान चिकित्सक और अधिकांश असपताल कर्मी फरार हो गए। सूचना मिलने पर पहुची पुलिस ने स्वास्थ्य विभाग के साथ संयुक्त रूप से अस्पताल सील कर दिया। वहा भर्ती अन्य मरीजों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

देवरिया निजी अस्पताल में हंगामा


मिली जानकारी के मुताबिक भटनी थाना क्षेत्र के रामलीला मैदान निवासी अजय उम्र 40 वर्ष पुत्र स्व. जंग बहादुर की तबियत बुधवार को बिगड़ गई। उनके भाई प्रदीप के अनुसार अजय को शुगर था। उसकी दवा चलती थी । बुधवार को अचानक उसकी हालत बिगड़ गयी। इसके बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।
अजय के भाई प्रदीप के अनुसार, अस्पताल में एक व्यक्ति मिला और स्वजनों को अपने झांसे में ले लिया। वह निजी अस्पताल में इलाज कराने की सलाह देते हुए पुरवा चौराहा स्थित एक नर्सिंग होम में भर्ती कराने पर जोर दिया। परेशान परिजन उसकी बातों में आ गए और नर्सिंग होम में भर्ती करा दिए। वहां इलाज शुरू हुआ।

बताया जाता है कि बृहस्पतिवार को हालत गंभीर हो गई। इसके बाद रात में राउंड लेने आए चिकित्सक को बताया गया तो कहा कि वह चिकित्सक नहीं कर्मी है। इसी बीच अजय की मौत हो गई। इसके बाद परिजन आक्रोशित हो गए और नर्सिग होम पर हंगामा करने लगे और चिकित्सक तथा कर्मचारियों पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाने लगे। इसी बीच किसी ने जानकारी पुलिस व सीएमओ को दी। खबर मिलने पर पुलिस पहुंची।वहीं स्वास्थ्य विभाग के एसीएमओ डॉ. बीपी सिंह के नेतृत्व में एमपी तिवारी, सरोज तिवारी व अरूण शाही मौके पर पहुंचे तो नर्सिंग होम के चिकित्सक व अधिकांश कर्मचारी फरार थे, मौके पर मात्र तीन कर्मचारी मौजूद थे, उनसे पूछताछ की गई। इसके बाद नर्सिंग होम को सील कर दिया गया।

नर्सिंग होम में उस समय तीन मरीज थे, जिसमें खुखुंदू थाना क्षेत्र के बालेपुर निवासी युवक, मईल थाना क्षेत्र के बलिया गांव निवासी महिला तथा महुआडीह के बेलवा बाजार गांव निवासी एक महिला शामिल थी। तीनों मरीजों को एंबुलेंस से जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया।

तीन सदस्यीय जांच टीम गठित
सदर कोतवाली क्षेत्र के पुरवा चौराहा के समीप स्थित नर्सिंग होम में युवक की मौत और हंगामे के मामले में डीएम आशुतोष निरंजन के निर्देश पर तीन सदस्यीय जांच टीम गठित की गई है। इसमें एसीएमओ डॉ. एसके चौधरी, एसीएमओ डॉ. सतीश सिंह व नायब तहसीलदार सदर धर्मवीर को शामिल किया गया है।

सीएमओ डॉ. आलोक कुमार पांडेय सदर कोतवाली क्षेत्र के पुरवा चौराहा के समीप स्थित नर्सिंग होम में भर्ती युवक के मौत और हंगामे की सूचना मिलने पर एसीएमओ डॉ. बीपी सिंह के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम को भेजा गया। मौके पर चिकित्सक व अन्य कर्मचारी नहीं मिले। नर्सिंग होम को सील कर दिया गया है। नर्सिंग होम पंजीकृत है। इसकी सूचना डीएम को दी गई। उनके निर्देश पर तीन सदस्यीय जांच टीम गठित की गई है, जिसमें दो एसीएमओ व नायब तहसीलदार सदर शामिल हैं। जांच रिपोर्ट आने पर दोषी लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,689FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles